SANT MAUNI BABA

S.M.S. GIRL'S DEGREE COLLEGE

संत मौनी बाबा

एस.एम.एस. बालिका महाविदयालय

    संस्थापक/चेअरमन की कलम से


          "आज्ञा का पालन करने के लिए जानें!"

         "सभी के लिए समान-सोच और समान-अवसर की स्वतंत्रता!"

       "शिक्षा" सबसे सशक्त हथियार है, जिससे दुनियाँ को बदला जा सकता है!
            


"ज्ञान एक कल्पना है, जो दुनियाँ को घेरे में रखती है !"

यदुवंशी स्व. रामगुलाम के इकलौते पुत्र स्व. गोकुल यादव के व्दै संतान (स्व. मरजाद यादव, स्व. सरजू यादव) में अनुज पुत्र स्व. सरजू यादव जो सरल,  मृदुभाषी एवं साध्वी प्रवृत्ति वाले थे, उनके इकलौते पुत्र श्री. मोहन यादव जो बड़े ही ईमानदार, धर्मनिष्ठ, कर्तव्यपारायण एवं गृहस्थ जीवन के प्रति समर्पित व्यक्ति हैं ! उनके पुत्र श्री.शिवशरन यादव, डा.ओमप्रकाश, नन्दलाल, हीरालाल में ज्येष्ठ पुत्र शिवशरन हैं, जिन्हें महाँन कर्मयोगी तथा त्यागी कहना अतिशयोक्ति नहीं होगी !

शिवशरन जी माँता-पिता की प्रेरणा प्राप्त कर धर्म की जड़ को इतनी गहराई तक ले जाने वाले एवं पूर्वजों के अधूरे कर्मों को पूरा करने हेतु भगीरथ के समान अपनी माँता-पिता की गोंद में जन्म लिए हैं !

माँता-पिता के उदात्त प्रेम, शुद्ध तथा सात्विक कर्मों का ही यह प्रतिफल है कि एक साधारण गृहस्थ परिवार में जन्म लेकर इस कीर्तिरूपी पताका को फहराने हेतु सर्व प्रथम परम पूज्यपाद संत शिरोमणि मौनी बाबा के आशीर्वाद को प्राप्त कर ०६ जनवरी सन् २००६ ई. दिन शुक्रवार को सुबह ८:०० बजे उसकी डोरी अपने पूज्यपिता श्री. मोहन यादव के हाथ में देकर इस विद्यालय का शिलान्यास करवाये तथा इस दरवार के रक्षक के रूप में अपने अनुज डा.ओमप्रकाश जी को नियुक्त कर दिये !

शस्य श्यामला परम पूज्यपाद संत शिरोमणि मौनी बाबा के सानिध्य में यह विद्यालय सदा विकास के पथ पर अग्रसर रहे, इस आशीर्वचन हेतु यह स्मृति पत्र आप पाठकों को प्रेषित (समर्पित) किया जाता है !

"जय हिन्द, जय मौनी बाबा, जय सरजू बाबा"

जय विद्यालय…!!!

श्री. शिवशरन सिंह यादव / पुत्र श्री. मोहन यादव